Network Kya Hain और कितने प्रकार के होते है?

What is Computer Network in Hindi_TechnicalGear.info

Network kya Hain (What is Network in Hindi)

क्या आपको पता हैं Network kya Hain और कितने प्रकार के होते है? >> आसान शब्दों में, Computer Network एक प्रकार का नेटवर्क है जो कंप्यूटर को अन्य कंप्यूटरों के माध्यम से Communicate करने की अनुमति देता है। मुख्य रूप से नेटवर्क 3 प्रकार के होते हैं: WAN, LAN और MAN। एक कंप्यूटर नेटवर्क विभिन्न कंप्यूटरों से जुड़ा होता है, जो Data Share करने और Recieve करने के उद्देश्यों से जुड़े होते हैं।

Computer Network एक डिजिटल संचार प्रणाली (Digital communication system) है जो हमारे कंप्यूटर को विभिन्न नोड्स से जोड़ने में मदद करती है। अगर हम किसी नेटवर्क से जुड़े हैं, तो हम इंटरनेट से जुड़े हैं। और, हम जानते हैं कि, अगर हम इंटरनेट से जुड़े हैं तो सब कुछ किया जा सकता है।

Network Devices (Network में इस्तेमाल होने वाली Devices)

Computer Networking में विभिन्न प्रकार के Electronic Device’s का उपयोग किया जाता है जिन्हें Network Device या Network Equipment के रूप में जाना जाता है। कंप्यूटर नेटवर्क में, Network Device’s का उपयोग मुख्य रूप से कंप्यूटर, फैक्स मशीन, प्रिंटर इत्त्यादि के बीच Data को जल्दी और सुरक्षित रूप से transmit करने और receive करने के लिए किया जाता है। एक कंप्यूटर नेटवर्क में, प्रत्येक नेटवर्क डिवाइस उनकी functionality के आधार पर एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, और विभिन्न Segment में विभिन्न उद्देश्यों के लिए भी काम करता है।

What is HUB in Hindi?

  • हब क्या है? Hub एक Networking Device है, और यह एक ऐसा Device है जो एक Network Connection को कई कंप्यूटरों के बिच भाग करता है, यह एक distribution center जैसा ही हैं। जब एक कंप्यूटर, कोई एक नेटवर्क या किसी specific कंप्यूटर से जानकारी देने के लिए अनुरोध करता है, तो यह उस अनुरोध को एक केबल के माध्यम से हब पर भेजता है। हब तब उस अनुरोध को प्राप्त करता है और इसे पूरे नेटवर्क पर transmit करता है। तब उस network में मौजूद प्रत्येक computer को ये जानना होता है की, जो data transmit हुआ है, ये उनके लिए है या नहीं.

What is Switch in Hindi?

  • स्विच क्या है? यह डिवाइस भी HUB जैसा Physical Layer पर काम करता है। यह DEVICE, HUB से अधिक Intelligent है क्यूंकि HUB डेटा पैकेट को सिर्फ forward करता है, लेकिन Switch, Data Packets को सिर्फ Forward नहीं करता हैं उसके साथ यह उसको फ़िल्टर भी करता है। इसलिए, इसे Intelligent कहा जाता है।
    जब स्विच Data packets recieve करता है। तब सबसे पहले Switch उस Data Packets को Filter करके Address का पता लगता है. और Target device को वह Data packet Forward कर देता है.। इसलिए Switch, CAM (Content Addressable Memory) table को बनाकर रखता हैं। जिसमे हर एक Devices का Address रहता है। CAM को Forwarding Table भी कहा जाता है।

What is Modem in Hindi?

मॉडेम क्या है? मोडेम का उपयोग टेलीफोन लाइनों के माध्यम से एक कंप्यूटर नेटवर्क से दूसरे कंप्यूटर नेटवर्क में डेटा ट्रांसफर के लिए किया जाता है। कंप्यूटर नेटवर्क digital mode में काम करता है, जबकि analog technology का उपयोग फोन लाइनों पर massages carry करने के लिए किया जाता है।

What is Router in Hindi?

राउटर क्या है? Router एक छोटा Electronic Device है जो आपके Modem और Computer के बीच काम करता है। ज्यादातर Router एक Modem जैसा ही देखने और आकर में होते हैं। Router का उद्देश्य मॉडेम से जानकारी लेना और इसे आपके कंप्यूटर पर deliver करना है। लेकिन इसका Interesting पार्ट यह है की यह एकसाथ कई नेटवर्कों से जानकारी को लेने और उन्हें एकसाथ कई कंप्यूटरों तक पहुंचाने में सक्षम है।

What is Bridge in Hindi?

ब्रिज क्या है? जिस तरह Router दो अलग-अलग नेटवर्क को जोड़ता है, thik उसी तरह ब्रिज दो सब नेटवर्क को जोड़ता है। जो एक ही नेटवर्क के अंतगर्त होते हैं। एक उदाहरण लेते हैं, आप केवल ब्रिज के माध्यम से दो कंप्यूटर लैब और दो फ्लोर कनेक्ट कर सकते हैं।

What is Repeater in Hindi?

रिपीटर क्या है? यह एक इलेक्ट्रॉनिक Device है। जो Signal Strength को बढ़ाने में मदद करता है। आप यह भी कह सकते हैं, यह एक इलेक्ट्रॉनिक Device है जो सिग्नल प्राप्त करता है और उसे Re transmit करता है। Repeater signal को Lost होने से बचाता है. इसकी वजह से ही DATA बिना lost हुए आसानी से दूर दूर तक पोहंचता है.

चलिए, और अच्छे से समझते हैं। अगर एक College का Hostel, College से काफी दूर है. और College वाले हॉस्टल और कॉलेज को Cable से कनेक्ट करके Internet Provide करना चाहते हैं. लकिन दुरी ज्यादा होने से DATA सही से Receiver तक पौंछेगा नहीं, और Data Connection टूट जायेगा। इस Problem को Solve करने के लिए Hostel और College के बिच cable से जो कनेक्शन बना हैं, उसके बिच में एक Repeater लगाना होगा, और यह Problem Solve हो जायेगा। यह बात याद रखियेगा की Cables का Data transmission, distance में Limitation रहता है. अब तक आप जान ही गए होंगे Networking in Hindi. Network kya hai और नेटवर्क DEVICES के बारे में. अब जानोगे Network के प्रकार.

नेटवर्क के प्रकार – Types Of Network in Hindi

वैसे तो Computer Networking कई प्रकार के होते हैं। उन्हें उनके आकार, भौगोलिक क्षेत्र (geographic area) और कितने कंप्यूटर एक नेटवर्क में रह सकते हैं, इसके के अनुसार विभाजित किया गया है। एक छोटे से कमरे से शुरू होकर, एक नेटवर्क दुनिया भर के कंप्यूटरों को जोड़ सकता है। तो आइये जानते है Types Of Networking in हिंदी।

आमतोर नेटवर्क 3 प्रकार के होते हैं LAN, MAN और WAN. इनको छोड़ के और भी कुछ हैं, जैसे PAN, HAN.

Local Area Network (LAN क्या है)

LAN का Full Form हैं Local Area Network । यह नेटवर्क आपको हर जगह देखने मिल जायेगा, जैसे ऑफिस, कॉलेज, स्कूल, बिजनेस ऑर्गनाइजेशन में । इस नेटवर्क का उपयोग रिसोर्स शेयरिंग (Resource sharing), डेटा स्टोरेज (Data storage), डॉक्यूमेंट प्रिंटिंग (Document Printing) के लिए किया जाता है। इसे बनाने के लिए कुछ भी हार्डवेयर (Hardware) की आवश्यकता नहीं होती है, बस हब (Hub), स्विच (Switch), नेटवर्क एडाप्टर (Network Adapter), राउटर (Router) और ईथरनेट केबल (Ethernet Cable) की आवश्यकता होती है।

सबसे छोटा LAN केवल दो कंप्यूटरों से बना हो सकता है। एक LAN में, हम 1000 कंप्यूटर को एक दूसरे से कनेक्ट कर सकते हैं। ज्यादातर LAN का उपयोग वायर कनेक्शन में उपयोग किया जाता है। लेकिन आजकल इसका उपयोग वायरलेस में भी किया जा रहा है। इस नेटवर्क की खासियत इसकी गति (Speed), कम खर्च (Low Cost) और सुरक्षा (Security) है। इसमें ईथरनेट केबल (Ethernet Cable) का उपयोग किया जाता है।

Office में इस नेटवर्क को Document Share करने और Document Print करने के लिए ज्यादातर यूज़ किया जाता है। Document Sharing में क्या होता है? एक central server रहता है जहां सभी फाइलें रखी जाती हैं। जिसे कोई कर्मचारी बिना वहां जाए फाइल को एक्सेस कर सकता है। अगर किसी को प्रिंट भी करना है, तो वह Central प्रिंटर का इस्तेमाल करके प्रिंट कर सकता है। यह LAN का फायदा है। इसे रिसोर्स शेयरिंग (Resource sharing) कहा जाता है।
यदि कोई Local Area Network, Wireless है, तो उसे Wireless LAN कहा जाता है।

खासियत

  • इसकी दुरी छोटे geographical Area में सीमित है।
  • इसका इस्तेमाल ज्यादातर घर, ऑफिस एबंग कॉलेज में होता है।
  • इसकी Ownership Private होती है।
  • यह नेटवर्क आसानी से बनाया जा सकता है।
  • इस नेटवर्क की Data transmission स्पीड अधिक है।

Metropolitan Area Network (MAN क्या है)

MAN का Full Form हैं Metropolitan Area Network। यह नेटवर्क एक शहर में सभी बड़े कॉलेजों, स्कूलों, सरकारी कार्यालय को जोड़ता है। MAN, LAN से बड़ा नेटवर्क है। MAN 10KM से 100KM तक Area Cover कर सकता है। इसका उपयोग सभी LANs को आपस में जोड़कर एक बड़ा नेटवर्क बनाने के लिए किया जाता है।

अगर College Campus में इस तरह के Network का इस्तेमाल होने लगता है, तो इसे Campus Area Network कहते हैं। इसका सबसे अच्छा उदाहरण केबल टीवी नेटवर्क है। MAN का उपयोग LAN से LAN, Connect करने के लिए किया जाता है। एक बड़ा Business Organisation अपना स्वयं का MAN बनता है, जिसके माध्यम से वह अपनी अलग Branch को जोड़ सकता है।

खासियत

  • बड़े geographical Area में इसकी दुरी सिमित है जैसे town, city.
  • इसकी ownership public और private होती है।
  • LAN से जादा इस नेटवर्क को install करने में खर्चा आता है।
  • इसकी data transmission speed, Medium है।

Wide Area Network (WAN क्या है)

WAN का Full Form है Wide Area Network । वैसे, यह सबसे बड़ा नेटवर्क है जो दुनिया भर में कंप्यूटर को जोड़ता है। Wide Area Network को LAN of LANs कहा जाता है। इस नेटवर्क की ख़ासियत यह है कि इसकी DATA Rate कम है, लेकिन अधिक दूरी को Cover करता है। इंटरनेट Wide Area Network का सबसे अच्छा उदाहरण है।

WAN दो प्रकार के होते हैं 1. Enterprise WAN और 2. Global WAN. Wide Area Network के साथ connected होने वाले computer ज्यादातर public network का इस्तेमाल करते हैं जैसे की Telephone line, Leased line और satellites. सबसे बड़ा WAN है Internet. सबसे बड़ा Wide Area Network है Internet.

और भी बोहोत सारे Wide Area Network हैं। जैसे पब्लिक पैकेट नेटवर्क (Public Packet Network), बड़ी कॉर्पोरेट नेटवर्क (Large Corporate network), सैन्य नेटवर्क (Military networks), बैंकिंग नेटवर्क (Banking networks), रेलवे रिजर्वेशन नेटवर्क (Airline Reservation network) और अंत में एयरलाइन आरक्षण नेटवर्क।

WAN के जरिये Network की Service देने वाली कंपनी को Network Service Provider कहते हैं। इनको Internet का core सिस्टम बोला जाता है. WAN को सबसे महंगा नेटवर्क कहा जाता है। क्योंकि इसमें कुछ इस प्रकार की तकनीक का उपयोग किया जाता है। जैसे की SONET, Framerelay और ATM.

खासियत

  • बड़े Geographical Area जैसे दो देशों को एक दूसरे के साथ इस नेटवर्क से connect कर सकते हैं।
  • इसकी Ownership public और private दोनों होती है
  • इस नेटवर्क को install और maintenance करना ,मुसकिल होता है.
  • इसकी Data transmission speed, slow है

Network kya Hain (What is Network in Hindi)

तो दोस्तों आज हमने जाना की Network kya Hain (What is Network in Hindi) और कितने प्रकार के होते है? . Computer Network का ज्ञान हर किसी को होना बोहत ही जरुरी है. उम्मीद करता हूँ यह पोस्ट Network kya Hain सभी students को समझने में आसानी होगी. अभी आप खुद एक नेटवर्क से जुड़े हुए हो इसलिए आप मेरा लेख पढ़ रहे हो.

उमीद है ये लेख आपको पसंद आया होगा कैसा लगा आप जरुर निचे कमेंट करके बताइए. अगर अभी बी कोई सवाल आप पूछना चाहते हो तो निचे Comment Box में जरुर लिखे. और कोई सुझाव देना चाहते हो तो जरुर दीजिये जिस्से हम आपके लिए कुछ नया कर सके। हमारे Blog को अभी तक अगर आप Subscribe नहीं किये हो तो जरुर Subscribe करें. चलो बनायें India को Digital | जय हिंद, जय श्री राम, धन्यबाद.

Bijoy Goswami
में एक Professional Blogger हूँ, और में 2016 से Blogging कर रहा हूँ. में इस Blog की माध्यम से अपना Experiance आप लोगो तक शेयर करने की कोसिस करूँगा, ताकि मुझे Blogging करते समय जो मुशकिलो की सामना करना परा था वोह आप लोगो को करना ना पड़े. तोह चलिए Blogging करते हैं & बोहोत सारा पैसा कमाते हैं 🤘