कंप्यूटर के प्रकार (Types of Computer in Hindi)

Computer Ke Prakar_TechnicalGear.info

कंप्यूटर के प्रकार (Types of Computer in Hindi)

क्या आपको कम्प्यूटर के प्रकार (Types of Computer in Hindi) के बारे में पता है? आप सभी अपने जीबन में कभी ना कभी Computers का इस्तमाल किया होगा, क्यूंकि आजकल यह बोहोत आसानी से हर जगह उपलब्ध हैं जैसे की Schools, College, या Offices में। इसीलिए, सायद आप सभी को यह बात पता होगा की सभी Computers के आकर और कार्य करने के क्ष्य्मता समान नहीं होता है।

जहाँ कुछ computers आकर में बहुत छोटे होते हैं, और कुछ आकार में बड़े. कुछ कंप्यूटर बहुत तेजी से कार्य करते हैं तो कुछ बहुत ही धीमी गति से। अब सवाल उठता है की Computer किनते प्रकार के होते हैं , और इनमे क्या क्या अलग होता हैं ? आज की इस हम इसी टॉपिक पर डिटेल में बात करेंगे।

उम्मीद है की इस article के ख़त्म होने तक आपको आपके सभी सवालों के जवाब जरुर से मिल जायेंगे. तो फिर बिना देरी किये चलिए जानते हैं पर्सनल कंप्यूटर के प्रकार.

कंप्यूटर क्या है? (What is Computer in Hindi)

कंप्यूटर एक ऐसा machine है जिसे कुछ ऐसा program किया गया होता है, जिससे की वो हमारे बहुत से कार्य एक साथ और आसानी से कर सकें. ये हमारे commands को input के हिसाब से लेता है, और उसे process करता है और अंत में प्रोसेस हो जाने के बाद हमारे results को output के माध्यम से प्रदान करता है.

इसके कुछ महत्वपूर्ण विशेषताएँ भी हैं जैसे की

  • ये respond करता है एक specific set of instructions को वो भी एक well-defined manner में.
  • ये execute करता है एक prerecorded list of instructions (जिसे की program कहा जाता है).
  • ये बड़ी ही आसानी से बड़े मात्रा की data को store और retrieve करने में सक्षम होता है.

इसके अलावा computers बहुत से complex और repetitive procedures को quickly, precisely और reliably करने में सक्षम होता है.

मॉडर्न कंप्यूटर की बात करें तो वे इलेक्ट्रॉनिक(electronic) और डिजिटल(digital) हैं। इसमें जो actual machinery (तार, ट्रांजिस्टर, और सर्किट) Use होते हैं उन्हें हार्डवेयर(Hardware) कहा जाता है। और डाटा (Data) एबंग Instructions को सॉफ्टवेयर (software) कहा जाता है।

जो Computers general-purpose के लिए काम में अत हैं , उसमे में निचे बताये गए hardware components Use होते हैं,

  • सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (CPU): आप इसे कंप्यूटर का Brain कह सकते है, कंप्यूटर की सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (CPU) हार्डवेयर का एक टुकड़ा है जो कंप्यूटर प्रोग्राम के निर्देशों (Instructions) को पूरा करता है। यह कंप्यूटर सिस्टम का Basic Operations जैसे (arithmetical, logical, and input/output) को पूरा करता है।
  • मेमोरी (fast, expensive, short-term memory): ये computer को सक्षम बनती हैं डाटा को store करने के लिए, भले ही temporary हो।
  • मास स्टोरेज डिवाइस (slower, cheaper, long-term memory): इसके मदत से आप बड़ी मात्रा में computer की डाटा को permanently एक जगह स्टोर कर सकते हैं। Common mass storage devices में disk drives और tape drives प्रमुख हैं.
  • इनपुट डिवाइस (Input Device): एक कंप्यूटर input device के माध्यम, data और instructions को Receive करता हैं। जैसे की  keyboard और mouse.
  • आउटपुट डिवाइस (Output Device): एक कंप्यूटर डाटा को प्रोसेस करने के बाद Result को Output Device के माध्यम से दिखता हैं। इसमें से Computer Monitor, Printer मुख्य हैं.

कम्प्यूटर के प्रकार – Types of Computer in Hindi

चलिए अभी हम Computer के प्रकार में जानते हैं। वैसे computers बहुत सारे प्रकार के होते हैं, लेकिन उन्हें ठीक तरह से समझने के लिए उन्हें अलग अलग categories में बाँट दिया जाता है. जिससे किसी को भी Computer के प्रकार समझने में आसानी हो।

कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं?

मुख्य रूप से Computer को तीन अलग अलग आधार पर बांटा जाता है.

  1. Based on Mechanism (कार्यप्रणाली के आधार पर)
  2. Based on Purpose (उद्देश्य के आधार पर)
  3. Based on Size (आकार के आधार पर)

Based on Mechanism (कार्यप्रणाली के आधार पर कम्प्यूटर के प्रकार)

Computer की कार्यप्रणाली के आधार पर इन्हें तीन भागो में भाग किया गया हैं, और वह हैं Analog, Digital, and Hybrid. चलिए इन सभी के बारे में हम एक एक करके बिस्तार से जानेंगें।

Analog_Computer_in_Hindi_TechnicalGear.info
What is Analog Computer in Hindi

1. Analog Computer (एनालॉग कंप्यूटर क्या हैं?)

भौतिक मात्राओ; जैसे प्रेशर (Pressure), तापमान , लम्बाई , पारे इत्त्यादि को मापकर उनके परिणाम को अंको में प्रस्तुत करने के लिए Analog Computer का उपयोग जाता हैं। क्यूंकि यह कंप्यूटर मात्राओ को अंको में प्रस्तुत करते हैं, इसीलिए इनका उपयोग बिज्ञान और इंजीनियरिंग बिभाग में अधिक किया जाता हैं। इसके उदाहरण हैं – स्पीडोमीटर, भूकंप-सूचक यन्त्र इत्यादि।

What is Digital Computer in Hindi

2. Digital Computer (डिजिटल कंप्यूटर क्या हैं?)

अंको की गणना करने के लिए Digital Computer का उपयोग कीया जाता हैं , आधुनिक युग में ज्यादतर कंप्यूटर डिजिटल कंप्यूटर की श्रेणी में ही आते हैं। ये इनपुट किये गए डाटा और प्रोग्राम को ० और १ में परिबर्तित करके इन्हे इलेक्ट्रॉनिक रूप में प्रयुक्त करते हैं। डिजिटल कंप्यूटर का उपयोग ब्यापार में (Business), घर में, एनीमेशन(Animation) के क्षेत्र में बिस्तृत रूप से किया जाता हैं। इसके उदाहरण हैं – Desktop Computer, Laptop इत्यादि।

What_is_Hybrid_Computer_in_Hindi_TechnicalGear.info
What is Hybrid Computer in Hindi

3. Hybrid Computer (हाइब्रिड कंप्यूटर क्या हैं?)

Hybrid Computer उन कंप्यूटरों को कहा जाता हैं , जिनमे Analog तथा Digital दोनों ही कम्प्यूटरों के गुण सम्मलित हो , अर्थार्त Analog तथा Digital के मिश्रित रूप को Hybrid Computer कहा जाता हैं। इसके द्वारा भौतिक मात्राओ को, अंको में परिबर्तित करके उसे Digital रूप में ले आते हैं। चिकित्शा के क्षेत्र में इसका सर्बाधिक उपयोग होता हैं। इसका उदाहरण हैं – ECG और DIALYSIS मशीन।

उद्देश्य के आधार पर कम्प्यूटर के प्रकार (Based on Purpose)

उद्देश्य के आधार पर कम्प्यूटर दो प्रकार के होते हैं ,
१. General Purpose Computer &
२. Special Purposes Computer . चलिए इनके बारे मैं जानते हैं।

  • General Purpose Computer (जेनरल पर्पस कंप्यूटर) : समांन्य उद्द्येशो को पूरा करने के लिए इन कम्पुटरों का इतेमाल किया जाता हैं। इनके द्वारा दस्ताबेज तैयार करने , उन्हें छपने , डाटाबेस बनाने इत्यादि समांन्य कार्य किये जाते हैं।
  • Special Purpose Computer (स्पेशल पर्पस कंप्यूटर) : बिशेष उद्देशों को पूरा करने के लिए इन कम्प्यूटरों का इस्तेमाल किया जाता हैं। इनका इस्तेमाल अंतरिक्ष बिज्ञान , मौसम बिज्ञान, उपग्रह संचालन, जातायत नियंत्रण , करिहि बिज्ञान , इंजीनियरिंग, रासायनिक बिज्ञान इत्यादि क्षेत्रो में बिशेष उद्देशों के लिए किया जाता हैं। इसमें प्रयोग किये जाने बाले CPU की क्षमता अधिक तीब्र होती हैं।

आकार के आधार पर कम्प्यूटर के प्रकार (Based on Size)

आकार के आधार पर कंप्यूटर पांच प्रकार के होते हैं, जिनके बारे में निचे दिया गया हैं।

1. Micro Computer (माइक्रो कंप्यूटर क्या हैं?)

बर्ष १९७० में Technology क्षेत्र में Intel द्वारा microprocessor का अबिस्कर हुआ, जिसका उपयोग से Computer प्रणाली काफी सस्ता हो गई। कंप्यूटर इतने छोटे होते थे की इन्हे डेस्क पर आसानी से रखा जा सकता था। इन्हे Computer on a Cheap भी कहा जाता हैं। आधुनिक जुग में micro computer, phone के आकर में , पुस्तक के आकार में और घरी के आकर में भी उपलब्ध हैं। इन कम्प्यूटरों का उपयोग मुख्य रूप से Business और चिकत्सा के खेत्र में किया जाता हैं। इसके उदाहरण हैं – IMAC, IBM, PS/2, APPLE MAC इत्यादि।
अभी जानते हैं माइक्रो कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं?, निचे हमने इसके बारे में Dicuss किये हैं ,चलिए जानते हैं।

What is Micro Computer in Hindi_TechnicalGear.info
What is Micro Computer in Hindi
  • Desktop Computer (डेस्कटॉप कंप्यूटर) >> यह Personal computer का सबसे ज्यादा उपयोग होने बाला Form (रूप) हैं। आजकल PCs को छोटा करके Laptop और Pamtop का आकार दिया गया हैं, फिर भी अधिकांश घरो में और बिज़नेस के क्षेत्र में Desktop ही देखने को मिलेगा। क्यूंकि यह सस्ते और टिकाऊ होते हैं।
  • Laptop (लैपटॉप) >> पिछले कुछ बर्षो में हुए Technology के बिकास ने Micro Computer का आकार इतना छोटा कर दिया हैं की उन्हें कंही पर भी ले जाया सकता हैं, और साधारण यूजर भी उन्हें खरीद कर Use कर सकता हैं। इस टाइप के कंप्यूटर को Laptop कहा जाता हैं, Laptop को कभी कभी Notebook भी कहा जाता हैं।
  • Palmtop (पॉमटॉप) >> यह लैपटॉप की तरह ही Portable Personal Computer हैं। Laptop से भी हल्का और छोटा होता हैं। हैण्डहेल्ड Operating System इस्तेमाल करता। हैं
  • Tablet Personal Computer (टेबलेट पर्सनल कंप्यूटर) >> Tablet Tablet और Laptop एक तरह से सामान हैं, परन्तु Tablet PC नोटबुक और लैपटॉप से ज्यादा सुबिधाजनक हैं। यह दोनों ही पोर्टेबल हैं, लेकिन इनमे Use होने बाले Software , स्क्रीन इत्यादि में Difference हैं। टेबलेट PC की स्क्रीन पर आप बिना Keyboard की सहायता से आप लिख सकते हैं। परन्तु Notebook पर नहीं।
  • Personal Digital Assistant (पर्सनल डिजिटल Assistant) >> PDA या डिजिटल डायरी भी एक Portable Computer ही हैं, लेकिन यह सभी काम नहीं कर सकता। इसका उपयोग छोटे आंकड़ो और सूचनाओं, जैसे फ़ोन नंबर , ईमेल इत्यादि के स्टोर करने के लिए किया जाता हैं।

2. Mini Computer (मिनी कंप्यूटर क्या हैं?)

मध्यम आकार के इन कम्प्यूटरों की कार्यक्षमता तथा कीमत दोनों ही माइक्रो कंप्यूटर की तुलना में अधिक होती हैं। जिस कारन यह ब्यक्तिगत प्रयोग में नहीं लाये जाते हैं।
इस प्रकार के कम्प्यूटरों पर एक या एक से अधिक ब्यक्ति एक समय में अधिक कार्य कर सकते हैं। इनकी उपयोग ज्यादातर छोटी या माध्यम स्तर की कम्पनियाँ करती हैं। Mini Computer की गति १० से ३० MIPS (Mega Instructions Per Second) होती हैं। इसके उदाहरण हैं – HP ९०००, RISE ६०००, BULL HN-DPX२ और AS ४००० आदि।

What is Mini Computer in Hindi_TechnicalGear.info
What is Mini Computer in Hindi

3. Mainframe Computer (मेनफ़्रेम कंप्यूटर) :

आकार में अत्याधिक बड़े यह कंप्यूटर कार्यक्षमता और कीमत में भी मिनी और माइक्रो कंप्यूटर से अधिक होते हैं। बड़ी कम्पनियो तथा Bank या सरकारी भिभागों में एक Central Computer के रूप में इनका प्रयोग होता हैं। मेनफ़्रेम कंप्यूटर को एक्सेस करने के लिए यूजर ज्यादातर नोड का इस्तेमाल करते हैं। ज्यादातर कम्पनियो में मेनफ़्रेम कम्प्यूटरों का उपयोग- Sales का हिसाब , Bills को भेजना, कर्मचारीओ को Sallary देना, इत्यादि कार्यो के लिए किया जाता हैं। इसके उदाहरण हैं – CRAY-1, CDS-CYBER, IBM 4381, ICL 39, UNIVAC-1110 आदि।

What is Mainframe Computer in Hindi_TechnicalGear.info
What is Mainframe Computer in Hindi

4. Super Computer (सुपर कंप्यूटर)

सुपर कंप्यूटर High Speed, High Storage capacity, & ज्यादा Tough होता हैं। इनका आकर एक समांन्य कमरे के बराबर होता हैं। बिश्व का पहला Super Computer, १९७६ में क्रे रिसर्च कंपनी द्वारा बिकसित Cray-१ था। भारत के पास भी एक सुपर कंप्यूटर हैं , जिसका नाम Param (परम) हैं, इसका बिकास C-DAC ने किया हैं। इसका बिकसित रूप Param १०००० भी तैयार कर लिया गया हैं। सुपर कंप्यूटर का मुख्या उपयोग, मौसम की भाबिस्वबानी करने, अंतरिक्ष यात्रा के लिए , एनीमेशन तथा चलचित्र का निर्माण करने, बड़ी बैज्ञानिक और शोध प्रयोगशालाओं में शोध या खोज करने इत्यादि कार्यों में किया जाता हैं। इसके उदाहरण हैं – PARAM, PARAM-10000, CRAY-1, CRAY-2, NEC-500 आदि।

What is Super Computer in Hindi_TechnicalGear.info

इन्हे याद रखें 👇

  • Digital घड़ी में Micro Computer का Use किया जाता हैं।
  • सर्बप्रथम पंच कार्ड का प्रयोग जोसेफ मेरी ने किया था।
  • Integrated Circuit, सिलिकॉन (Si) या जर्मेनियम (Ge) के बने होते हैं।
  • बिश्व का सबसे तेज सुपर कंप्यूटर IBM का Blue Gene (ब्लू जीन) हैं।
  • भारत का सबसे तेज कंप्यूटर EKA (एका) हैं।

Conclusion

उम्मीद करता हूँ आपको मेरी यह Article कंप्यूटर के प्रकार (Types of Computer in Hindi) जरूर पसंद आया होगा।
में हमेसा कोसिस यह करता हूँ की Readers को हर एक आर्टिकल आसानी से समझ आये, हमने इस पोस्ट में भी कंप्यूटर के प्रकार (Types of Computer in Hindi) के बारे में समझाने की कोसिस की हैं, में कोसिस यह करता हूँ की एक आर्टिकल में ही आपकी हर एक डाउट को क्लियर कर सके।

यदि आपके इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ और सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप निचे हमे comment में लिख सकते हैं.

यदि आपको यह post कंप्यूटर के प्रकार (Types of Computer in Hindi) पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Google+ और Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

धन्यवाद आपका दिन शुभ हो | भारत माता की जय | जय श्री राम 🔥

Bijoy Goswami
में एक Professional Blogger हूँ, और में 2016 से Blogging कर रहा हूँ. में इस Blog की माध्यम से अपना Experiance आप लोगो तक शेयर करने की कोसिस करूँगा, ताकि मुझे Blogging करते समय जो मुशकिलो की सामना करना परा था वोह आप लोगो को करना ना पड़े. तोह चलिए Blogging करते हैं & बोहोत सारा पैसा कमाते हैं 🤘